सातवां ग्लोबल फेस्टिवल ऑफ जर्नलिज्म का मारवाह स्टूडियो में हुआ शानदार आयोजन

105

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

नोएडा के मारवाह स्टूडियो में इंटरनेशनल जर्नलिज्म सेंटर द्वारा सातवां ग्लोबल फेस्टिवल ऑफ जर्नलिज्म का शानदार आयोजन किया गया ICMEI के सानिध्य में आयोजित यह कार्यक्रम पत्रकारिता के क्षेत्र में रुचि रखने वाले युवाओं एवम् छात्रों के लिए बड़ा ही लाभदायक सिद्ध होगा। 12 फरवरी से 14 फरवरी तक चलने वाले तीन दिवसीय इस ग्लोबल फेस्टिवल ऑफ़ जर्नलिज्म में समाज के बुद्धिजीवी एवं प्रबुद्ध गणमान्य महानुभावों ने अपनी गरिमामय उपस्थिति दर्ज कर समाज में व्यापक रूप से मौजूद पत्रकारिता के प्रभाव को लोगों के समक्ष प्रकट किया।

कार्यक्रम में आए हुए गणमान्य महानुभावों ने कहा कि फोटोग्राफी एक ऐसी विधा है जो स्मृतियों को चित्र में के रूप में कैद करके वर्षों तक संजो कर रखती हैं और उसे हमारी आने वाली पीढ़ियों के समक्ष प्रस्तुत करके उनका मार्गदर्शन करती है उन्हें प्रेरणा देती है और उन्हें अपनी सभ्यता, संस्कृति आदि के बारे में परिचित करवाने में सहायक बनती है। इस कार्यक्रम में बोस्निया हरजोगोबिना के एम्बेसडर माननीय मोहम्मद सेंजिक, एंबेसी ऑफ चेक रिपब्लिक के रोमान मसरिक, अज़रबैजान के एंबेसडर अशरफ शिखालिए, प्रोफेसर के जी सुरेश, साक्षी जोशी, प्रदीप गुप्ता जैसे समाज के प्रबुद्ध व्यक्तित्व उपस्थित रहे।

ICMEI के लिए या बड़ा ही गौरवशाली पल है क्योंकि इसमें इंटरनेशनल डे आफ जर्नलिज्म का पोस्टर भी लांच किया गया। मारवाह स्टूडियो के संस्थापक संदीप मारवाह ने कहा कि 7 साल पहले यह फेस्टिवल शुरू हुआ था और आज इतने कम समय में इस मुकाम पर पहुंच चुका है। संदीप मारवाह ने कहा कि स्टील फोटोग्राफी के बिना फिल्मों का बनना संभव नहीं है क्योंकि बहुत सारी परिस्थितियों में हम स्टिल फोटोग्राफी से मूवमेंट को दर्शाने के लिए मजबूर हो जाते हैं इसलिए स्टिल फोटोग्राफी बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है

प्रेस क्लब आफ इंडिया के प्रेसिडेंट नीरज ठाकुर ने बताया कि मारवाह स्टूडियो पत्रकारिता के क्षेत्र में मील का पत्थर है। आईआईएमसी के डायरेक्टर जनरल प्रोफेसर के जी सुरेश ने मारवाह की तारीफ करते हुए कहा कि यह बहुत ही कुशल व्यक्तित्व के धनी हैं और मीडिया के क्षेत्र में इनका जो योगदान है उससे मीडिया जगत को बड़ी ऊर्जा मिलती है। सीनियर जर्नलिस्ट साक्षी जोशी ने कहा कि जागरूक नागरिक और एक जर्नलिस्ट होने के नाते हमें उन फेक न्यूज के पीछे नहीं पड़ना चाहिए और ना ही हमें कुछ ऐसे अफवाह फैलाना चाहिए जिससे समाज में नकारात्मकता फैले। इस कार्यक्रम में शामिल हुए समाज के प्रतिष्ठित गणमान्य महानुभावों को उनके सामाजिक योगदान एवं समर्पण के लिए लाइफ मेंबरशिप ऑफ जर्नलिज्म भी दिया गया जिसमें मोहम्मद सेंजीक, रोमान मसरिख,अशरफ सिखालियेव सहित कई अन्य व्यक्तित्व भी शामिल थे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.